एमएस धाेनी की कप्तानी पर हरभजन का बड़ा हमला, कहा- बाकी खिलाड़ी क्या वर्ल्ड कप में लस्सी पीने गए थे

Harbhajan Singh takes a 'dig' at MS Dhoni over wide call, netizens grill  him on helping Shahid Afridi

IPL 2022: एमएस धोनी आईपीएल के मौजूदा सीजन में बतौर खिलाड़ी खेल रहे हैं. वे बतौर कप्तान 4 आईपीएल के टाइटल जीत चुके हैं. इसके अलावा उन्होंने टीम इंडिया को एक बार टी20 वर्ल्ड कप और एक बार वनडे वर्ल्ड कप का खिताब भी दिलाया है.

पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) सिर्फ एमएस धोनी को वर्ल्ड कप जीतने का क्रेडिट देने के पक्ष में नहीं है. उन्होंने स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए कहा, अगर ऑस्ट्रेलिया की टीम वर्ल्ड कप जीतती है, तो सभी कहते हैं कि ऑस्ट्रेलिया ने जीता. लेकिन जब टीम इंडिया वर्ल्ड कप की ट्रॉफी पर कब्जा करती है तो सभी कहते हैं कि धोनी ने जीता. तो बाकी क्या लस्सी पीने गए थे.

एमएस धोनी (MS Dhoni) भारत के सफलतम कप्तानों में से एक हैं. उन्होंने टीम इंडिया को 2 वर्ल्ड कप का खिताब दिलाया है. इसमें एक टी20 वर्ल्ड कप और एक वनडे वर्ल्ड कप का खिताब शामिल है. इतना नहीं उन्होंने बतौर कप्तान आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी भी जीती है. आईपीएल 2022 (IPL 2022) में हालांकि धोनी बतौर खिलाड़ी खेल रहे हैं. उन्होंने सीजन शुरू होने से पहले कप्तानी छोड़ दी थी. रवींद्र जडेजा को सीएसके का नया कप्तान बनाया गया है. लेकिन टीम अच्छी शुरुआत नहीं कर सकी है और चारों मैच हार चुकी है. धाेनी ने अपनी कप्तानी में सीएसके (CSK) को 4 बार आईपीएल का खिताब दिलाया है.

गंभीर भी जता चुके हैं आपत्ति

उन्होंने कहा कि तब अन्य 10 खिलाड़ी क्या करने गए थे? गौतम गंभीर ने क्या किया? दूसरों ने क्या किया? यह एक टीम गेम और जब 7-8 खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तभी कोई टीम आगे बढ़ सकती है. मालूम हो कि धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने पहली बार 2007 में टी20 वर्ल्ड कप जीता था. फिर 2011 में उन्होंने 28 साल बाद भारत को वनडे वर्ल्ड कप का खिताब दिलाया. इससे पहले अप्रैल 2020 में गौतम गंभीर ने भी कुछ ऐसा ही कहा था. उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा था कि 2011 का वर्ल्ड कप पूरी टीम ने जीता था.

2011 वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में एमएस धोनी ने 79 गेंद पर नाबाद 91 रन बनाए थे और प्लेयर ऑफ द मैच बने थे. लेकिन टीम ने 31 रन पर 2 बड़े विकेट गंवा दिए थे. सचिन और सहवाग आउट हो गए थे. इसके बाद गौतम गंभीर ने तीसरे विकेट के लिए युवा विराट कोहली के साथ 83 रन की साझेदारी की थी. उन्होंने 97 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close
Translate »